रांची, जासं। रांची के 3一5元扫雷群规怎么写रिम्स के ईएनटी विभाग में गुरुवार को गले के नीचे ताला फंसे मरीज की गर्दन खोलकर जटिल सर्जरी की गई। ईएनटी के एचओडी डॉ. पीके सिंह की यूनिट के एसोसिएट प्रो. डॉ. जाहिद खान के नेतृत्व में सर्जरी हुई। डॉ. जाहिद खान ने बताया कि 23 साल का मरीज कोडरमा का रहने वाला है। बीते शुक्रवार को मरीज को रिम्स में भर्ती किया गया। एक्सरे से पता चला कि मरीज के गले के नीचे खाने के रास्ते में बड़े आकार का ताला फंसा है।

3一5元扫雷群规怎么写ऑपरेशन के बाद डॉ. जाहिद ने बताया कि ताला का आकार बड़ा होने के कारण बगैर गर्दन खोले निकालना संभव नहीं था। ऑपरेशन में डॉ. जाहिद खान, डॉ. संगीता, डॉ. निभा, डॉ. रागिनी, एनेस्थीसिया से डॉ. खन्ना व डॉ. शालिनी शामिल थे। डॉ. जाहिद ने बताया कि मरीज मनोरोगी है। घर में उसे ताला व सिक्कड़ से बांध कर रखा जाता था।

उसने खुद में लगे ताले को किसी तरह से खोलकर निगल लिया, जिसके बाद वह खाने की नली में जाकर अटक गया। रिम्स के ईएनटी विभाग में भर्ती इस मरीज को नर्सो की स्पेशल केयर में रखा गया है। मरीज खुद से कोई खाद्य पदार्थ का सेवन न करें इसके लगातार नजर रखने का निर्देश भी दिया गया है।

Posted By: Alok Shahi